एक माँ की सबसे बड़ी विडंबना ये होती है कि वो अपने बच्चे को कैसे सम्भाले ।एक तरफ तो वह उसे बहुत प्यार करती है जबकि दूसरी तरफ उसे एक बहुत ही अनुशासित बनाना चाहती है।

ऐसे में बच्चे को कई बार डांटना पड़ता है, जबकि वह बहुत शैतानी करते है और कहना नही मानते।

अब कुछ दिनों पहले की बात है मेरी बेटी सुबह उठते से ही मोबाइल की जिद करने लगी, और बहुत तेज रोने लगी।

अब ऐसे में मेरे पास दो विकल्प थे-

मैं उसको बहुत तेज डांट देता और जोर से चिल्ला देता, फिर उसके बाद वो रोती या सहम जाती ।।और कुछ देर के लिए मोबाइल छोड़ देती।। लेकिन उसके मन में मोबाइल के लिए जिद और ज्यादा बढ़ जाती।

दूसरा, मैंने उसको अपने साथ केरम खलने को बोला, और वो खुशी खुशी मान गयी।।अब ऐसा करने में तीन फायदे हुए,पहला उसका मन बहल गया, वो मोबाइल को भूल गयी। दूसरा हम दोनों को एक बहुत ही अच्छा समय व्यतीत करने का मौका मिला । तीसरा कहीं न कहीं उसके मन मे केरम के लिए थोड़ा आकर्षण बढ़ गया।।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •